Friday, July 19, 2024
HomeBankingबैंक क्या है, बैंक के कार्य और प्रकार | Bank Ke Bare...

बैंक क्या है, बैंक के कार्य और प्रकार | Bank Ke Bare Me Jaankaari in Hindi

बैंक क्या है (What Is Bank) :-  नमस्कार दोस्तों आज हम इस पोस्ट के माधयम से बैंक के बारे में जानेगे की बैंक क्या है (Bank kya hai,What is Bank) ,बैंक कितने प्रकार के होते है (Bank kitne parkaar k hote hai,what are the types of banks) ,बैंक के कार्य क्या क्या होते है (bank k kary kya kya hote hai,what are the functions of the bank) आदि के बारे में।अगर आप किसी बैंकिंग एग्जाम की तयारी कर रहे है बहुत अच्छी बात है बाकी सामान्य ज्ञान के लिए पता भी होना चाहिए की बैंक क्या होता है।

Definition of Bank (बैंक क्या है)

बैंक एक वित्तीय संस्थान है जिसे जमा प्राप्त करने और ऋण लेने के लिए लाइसेंस प्राप्त है। बैंक धन प्रबंधन, मुद्रा विनिमय, और सुरक्षित जमा बॉक्स जैसी वित्तीय सेवाएं भी प्रदान कर सकते हैं। पैसा सुरक्षित रखने के लिए ग्राहक का बैंक में रखा जा सकता है। बैंक ब्याज के साथ बाद में बैंक को पैसे वापस करने के लिए एक समझौते के तहत ग्राहकों को ऋण दे सकते हैं।

भारत में बैंक के प्रकार- Types of bank in India

  • केन्द्रीय बैंक
  • व्यापारिक बैंक
  • सहकारी बैंक
  • औद्योगिक विकास बैंक
  • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
  • निर्यात आयात बैंक
  • विनियोग बैंक
  • बचत बैंक
  • अंतर्राष्ट्रीय बैंक
  • देशी या अनौपचारिक बैंकर्स

वाणिज्यिक बैंक

वाणिज्यिक बैंक (Commercial Bank) वे बैंकिग संस्थान है जो जन साधारण से जमा स्वीकार करती हैं तथा अपने ग्राहकों को अल्प अवधि ऋण देती हैं। बैंकिग वाणिज्यिक बैंको के भी विभिन्न प्रकार है जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, निजी क्षेत्र के बैंक और विदेशी बैंक ।

सार्वजनिक क्षेत्र के वाणिज्यिक बैंक

सार्वजनिक क्षेत्र के वाणिज्यिक बैंको मे अधिकांश भागीदारी भारत सरकार व भारतीय रिजर्व बैंक की होती है भारतीय बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, सिन्डीकेट बैंक, देना बैंक आदि इसके उदाहरण है।

निजी क्षेत्र के वाणिज्यिक बैंक

निजी क्षेत्र वाणिज्यिक बैंको में बैंको कीअधिकांश अंश पूॅजं ी निजी हाथों में होती है यह बैंक सार्वजनिक कम्पनी केरूप में पंजीकृत होते है। इस वर्ग के बैंको के उदाहरण हैं जम्मू एवं कश्मीरबैंक लि. कोटक बैंक, एच.डी.एफ.सी. बैंक लि. आदि।

विदेशी बैंक

  • ऐसे बैंक जिनकी स्थापना व समामेलन विदेशों में हुआ है लेकिन इनकी शाखाएं हमारे देश मे कार्यरत है इस वर्ग के बैंक हैं हांगकांग एण्ड शंघार्इ बैंकिंग कार्पोरेशन (एच.एस.बी.सी) बैंक, अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक (American Express Bank), स्टैन्डर्ड एण्ड चार्टर्ड बैंक (Standard and Chartered Bank), एबीएन ऐमरो बैंक (ABN Amro Bank) इत्यादि।

सहकारी बैंक

जब एक सहकारी समिति बैंकिंग व्यवसाय करती है तो इसे सहकारी बैककहते है। सहकारी बैंक सामान्यत: कम ब्याज दर पर ऋण देते है। इन बैंको का नियन्त्रण एवं निरीक्षण भी भारतीय रिजर्व बैंक करता है-

  1. प्राथमिक साख समिति
  2. केन्द्रीय सहकारी बैंक
  3. राज्य सहकारी बैंक

केन्द्रीय बैंक

प्रत्येक देश में एक बैंक को बैंकिंग प्रणाली के मार्गदर्शन एवं नियमन काउतरदायित्व सौपा जाता है। इसे केन्द्रीय बैंक कहते हैं यह एक शीर्षस्थ बैंक होता है और इसे उच्चतम वित्तीय अधिकार प्राप्त होते हैं। भारत में केन्द्रीय बैंकिंग प्राधिकारी भारतीय रिजर्व बैंक है। यह जनमानस से सीधा लेन-देन नहीं करता यह बैंकों का बैंक है। इसमें सभी बैंको के जमा खाते होते हैं। यह बैंकों कोआवश्यकता पड़ने पर अग्रिम राशि देता है।परिणामस्वरूप यह मुद्रा एवं साख की मात्रा का नियमन करता है एवं सभी बैंकों के मुद्रा संबंधी लेन-देनां का निरीक्षण एवं नियन्त्रण करता है।

बैंक के कार्य / Function of Bank

  1. बैंक खाते: यह बैंकिंग क्षेत्र की सबसे आम सेवा है। कोई भी व्यक्ति बैंक खाता खोल सकता है इनमे बचत खाता, चालू खाता या जमा खाता कौनसा भी अकाउंट खुलवा सकता है। बैंक कई प्रकार के अकाउंट की सुविधाये देती है।
  2. ऋण खाते: बैंक जनता को ऋण का भी कार्य करता है। बैंक की मुख्य कमाई लोन (loan) देना ही होता है। यह कई प्रकार का ऋण देती है। यह आवास ऋण, कार ऋण, व्यक्तिगत ऋण, शेयर के विरुद्ध ऋण और शैक्षिक ऋण आदि लोन ले सकते है।
  3. धन हस्तांतरण: बैंक विश्व में कोई भी जगह रूपये भेज सकता है। यह ऑनलाइन बैंकिंग, ड्राफ्ट, चेक तरह से रूपये भेज सकता है।
  4. क्रेडिट और डेबिट कार्ड: सभी बैंकें अपने ग्राहकों को क्रेडिट कार्ड देता है। जिससे उनको आसानी हो। यह इन कार्ड की मदद से कहाँ भी पेमेंट कर सकते हो। जब से यह कार्ड शुरू हुये हे जब से व्यकिय कैश बहुत कम अपने पास रखने लगे है।
  5. लाकर्स सुविधा : अधिकांश बैंकों के पास लाकर्स सुविधा उपलब्ध होती है जिसमें ग्राहक अपने महत्वपूर्ण दस्तावेज या कीमती वस्तु इनमे रख सकता है। जिनमे यह सुरक्षित है। वर्तमान में यह लाकर्स सुविधा इस्तेमाल करने लगे है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments